festival

बसंत पंचमी पर निबंध Aur Shayari। Basant Panchmi Essay Aur Sayri- in Hindi 2019

बसंत पंचमी पर निबंध Aur Shayari। Basant Panchmi Essay Aur Sayri- in Hindi 2019=     हमारे देश में बसंत पंचमी का त्योहार बड़ी धूमधाम से मनाया जाता है। बसंत पंचमी के दिन ज्ञान की अधिष्ठात्री देवी सरस्वती देवी का जन्म हुआ था

इसलिए इस दिन देवी सरस्वती की पूजा-अर्चना की जाती है। पुरातन युग में इस दिन राजा सामंतो के साथ हाथी पर बैठकर नगर का भ्रमण करते हुए देवालय पहुँचते थे।

वहाँ विधिपूर्वक कामदेव की पूजा की जाती थी और देवताओं पर अन्न की बालियाँ चढ़ाई जाती थीं।

बसंत पंचमी पर हमारी फसलें-गेहूँ¸चना¸जौ आदि तैयार हो जाती हैं इसलिए इसकी खुशी में हम बसंत पंचमी का त्योहार मनाते हैं।

संध्या के समय बसंत का मेला लगता है जिसमें लोग परस्पर एक-दूसरे के गले से लगकर आपस में स्नेह¸मेल-जोल तथा आनंद का प्रदर्शन करते हैं।

कहीं-कहीं पर बसंती रंग की पतंगें उड़ाने का कार्यक्रम बड़ा ही रोचक होता है। इस पर्व पर लोग बसंती कपड़े पहनते हैं और बसंती रंग का भोजन करते हैं तथा मिठाइयाँ बाँटते हं।

Nibandh

ऋतुराज बसंत का बड़ा महत्व है। इसकी छटा निहारकर जड़-चेतन सभी में नव-जीवन का संचार होता है सभी में अपूर्व उत्साह और आनंद की तरंगे दौड़ने लगती है।

स्वास्थ्य की दृष्टि से यह ऋतु बड़ी ही उपयुक्त है। इस ऋतु में प्रातःकाल भ्रमण करने से मन में प्रसन्नता और देह में स्फूर्ति आती है।

स्वस्था और स्फूर्तिदायक मन में अच्छे विचार आते हैं। यही कारण है कि इस ऋतु पर सभी कवियों ने अपनी लेखनी चलाई है।

हमारे देश में छः ऋतुएँ होती हैं जो अपने क्रम से आकर अपना पृथक-पृथक रंग दिखाती हं। परंतु बसंत ऋतु का अपना अलग वं विशिष्ट महत्व है।

इसीलिए बसंत ऋतुओं का राजा कहलाता है। इसमें प्रकृति का सौन्दर्य सभी ऋतुओं से बढ़कर होता है। वन-उपवन भांति-भांति के पुष्पों से जगमगा उठते हैं।

गुलमोहर¸ चंपा¸ सूरजमुखी और गुलाब के पुष्पों के सौन्दर्य से आकर्षित रंग-बिरंगी तितलियों और मधुमक्खियों के मधुरस पान की होड़-सी लगी रहती है।

इसकी सुंदरता देखकर मनुष्य भी खुशी से झूम उठता है। विद्यार्थियों के लिए भी यह त्योहार बहुत आनंददायक होता है।

इस पर्व पर विद्यालयों में सरस्वती पूजा होती है और शिक्षक विद्यार्थियों को विद्या का मह्त्व बताते हैं तथा पूरे उल्लास के साथ पढ़ने की प्रेरणा देते हैं। 

Basant Panchmi Sayri

किताबों का साथ हो, पेन पर हाथ हो

कॉपिया आपके पास हो, पढाई दिन रात हो

ज़िंदगी के हर इम्तिहान में आप पास हो

हैप्पी बसंत पंचमी

#2

बहारो में बहार बसंत

मीठा मौसम मीठी उमंग

रंग बिरंगी उड़ती आकाश में पतंग

तुम साथ हो तो है इस ज़िंदगी का और ही रंग

हैप्पी बसंत पंचमी

#3

वीणा लेकर हाथ मे, सरस्वती हो आपके साथ मे,

मिले माँ का आशीर्वाद आपको हर दिन,

हर बार हो मुबारक़ आपको सरस्वती पूजा का ये दिन.

मुबारक हो आप सबको, बसंत पंचमी का त्योहार।

फूलों की वर्षा,

शरद की फुहार,

सूरज की किरणे,

खुशियों की बहार,

चन्दन की खुशबु,

अपनों का प्यार,

मुबारक हो आप सबको,

बसंत पंचमी का त्योहार।

हैप्पी बसंत पंचमी।

Lo Phir Basant Aayi, Phoolon Pe Rang Layi

Lo Phir Basant Aayi,

Phoolon Pe Rang Layi,

Chalo be Darang,

Lab-e-Aab-e-Zang;

Baje Jal Tarang,

Man Par Umang Chayi;

Lo Phir Basant Aayi!

Read This

Kumbh ka mela kyu aur kahan kahan lagta hai jane in hindi

Makar sakranti kyu manai jaati hai jane in hindi

Apko pata hai raam navmi kyu manaiu jati hai ! jane history in hindi

About the author

Khustar Noorani

Leave a Comment