< > Sitemap Kya Hai ? Sitemap Kyu Jaruri Hai Aur Sitemap Kaise Banayein
Blogging

Sitemap Kya Hai ? Sitemap Kyu Jaruri Hai Aur Sitemap Kaise Banayein-In Hindi

Sitemap Kya Hai ? Sitemap Kyu Jaruri Hai Aur Sitemap Kaise Banayein-In Hindi हेलो फ्रेंड्स स्वागत है आपका तो फ्रेंड्स आज हम बात करने बाले है। Sitemap क्या होता है और अपनी Blog Website का Sitemap के लिए कैसे बनाएं । और ये बनाना इतना जरुरी क्यों है। फ्रेंड्स अगर हम कुछ टाइम पहले की बात करें तो Goverment की वेबसाइट के  मुख्य page में पहले Link हुआ करते थे।

जिसे हम Page को Sitemap कहते है लेकिन आज भी कुछ वेबसाइट उसी HTML Sitemap

का इस्तमाल करते है। लेकिन फ्रेंड्स अब अब Sitemap में भी काफी बदलाव आ चुके है। क्यूंकि दोस्तों आजकल Sitemap को  HTML की जगह HML में Publish करते है

What Is The Sitemap ? साइट मैप क्या है 

फ्रेंड्स मै अगर आपको Simple Language में समझाऊ तो Sitemap आपके Website के Pages का लिस्ट होता है। लेकिन फ्रेंड्स Google के अनुसार  Sitemap बो लिस्ट है जिसमे आपके Blog Website का सारे Pages को लिस्ट किया गया होता है। जिन्हे कोई Google के Search Engine में खोज नहीं सकता है अगर अपने उन्हें Sitemap में Include नहीं किया तब। इसी लिए Sitemap बनाना और उसे Submit करने से Google को उसके बारे में पता चलता है। बरना कभी भी Google के Spider उन pages को  crawl नहीं करता.

Sitemap किसी भी Website या  Blog के लिए बहुत ही ज्यादा जरुरी है। क्यूंकि फ्रेंड्स ये  Search Engine को आपके  Blog के Pages के बारे में जानकारी देता है और इसके द्वारा आपको ये भी जानकरी प्राप्त होती है की आपके Blog में कैसे Content है और रोजाना कितने Update होते है  जानकारी से Search Engine को मदद मिलती है आपके Content को Search Result में दिखाता है

WordPress XML Sitemap Kya Hai

Sitemap Kya Hai ? Sitemap Kyu Jaruri Hai Aur Sitemap Kaise Banayein-In Hindi

फ्रेंड्स  Sitemap उस  Pages की लिस्ट को कहते है जिसे सारे Users Access कर सकते है। दोस्तों   Sitemap XML एक ऐसा तरीका होता है जिससे की blog Owners ,Search Engine को अपने blog के सारे Pages के बारे में सूचना देते है

ताकि बो आसानी से उन्हें ढूंढ सके और Sitemap XML उन्हें ये भी बताता है की कौन सी लिंक ज्यादा महत्त्पूर्ण है। और कौन से  Pages कितने रोज़ाना Update किये जाते है। और फ्रेंड्स इससे Search Engine आपके Website पर अच्छी तरह से crawl कर सकते है

क्यों जरुरी है  XML Sitemap 

फ्रेंड्स अगर हम Search Engine Optimization के नजरिये से देखें तो किसी भी ब्लॉग और  वेबसाइट के लिए Sitemap बहुत ही जरूरी है Sitemap किसी भी Website की रैंकिंग को नहीं बढ़ाता है मगर इसके द्वारा अगर आपकी कोई   Page Index नहीं हुयी है तो बो Index हो जाती हैSitemap Kya Hai ? Sitemap Kyu Jaruri Hai Aur Sitemap Kaise Banayein-In Hindi

फ्रेंड्स अगर खासकर देखा जाये तो ये नए  Website और ब्लॉग के लिए काफी अच्छा है क्यूंकि Dosto आमतौर पर नए Blogs के उनके Individual पोस्ट में ज्यादा Backlink नहीं मिलती है जिससे ये Search Engine में दिखाई नहीं पड़ती है

Dosto अगर हम पुराने Website की बात करें हमें ये पता चलता है की उनकी पोस्ट पूरी तरह से Index हो चुकी है इसलिए Search Engine उन्हें बड़ी ही आसानी से crawl करती रहती है। और जैसे जैसे बो अपनी पोस्ट को Update करते रहते है तो ये बात Search Engine को पता चल जाती है। जिससे ये उन  Website के लिए Crawl Rate Fix कर देती है जिससे की उन  Website की Visibiliti बहुत ज्यादा बढ़ जाती है

Search Engine Sitemap ko kaise ढूंढ़ता है 

फ्रेंड्स Search Engine काफी परफेक्ट होते है Sitemap को ढूंढ़ने में फ्रेंड्स जब भी आप अपने ब्लॉग पर नयी पोस्ट Publish करते है तुरंत एक Ping उस Search Engine को पहुंच जाती है जिससे Search Engine को ये पता लग जाता है की  Sitemap में कुछ बदलाव हुआ है

Defferent Types Of Sitemap

फ्रेंड्स यहाँ हम जानेंगे की Sitemap कितने प्रकार के होते है बैसे तो ये मुख्य दो तरीके के होते है

Sitemap Kya Hai ? Sitemap Kyu Jaruri Hai Aur Sitemap Kaise Banayein-In Hindi

  • HTMLSitemap   ( Hypertext Markup Language )
  • XML Sitemap    ( Extensible Markup Language )

फ्रेंड्स अब XML Sitemap के भी दो भाग है

  • Index Sitemap  ( कितने  URL Sitemap हैं  कितनी Site में )
  • URL Sitemap   ( Webpage पर URL की अंतिम जानकारी प्रदान करता है  )

URL Sitemap के भी तीन भाग होते है

  • Sitemap for webpage  ( इसे  Community में  XML Sitemap भी कहते हैं  )
  • Imag Sitemap  ( Website में उन  Images के  URL और उनके Details )
  • Video Sitemap  ( Website में उन Videos के Details )

HTMLSitemap क्या है 

फ्रेंड्स जैसा की मैंने आपको पहले ही बता दिया है की ये एक ऐसा map है

जो आपकी वेबसाइट की साड़ी जानकारी रखते है। और इसके साथ साथ उनका लोकेशन Details भी इनके पास होती है

इसकी मदद से हम कोई भी चीज़ को बड़ी आसानी से प्राप्त कर सकते है फ्रेंड्स किसी भी वेबसाइट में हजारो की संख्या में Web Pages होती है

जिससे किसी भी चीज़ को खोज  मुश्किल होता है मगर Sitemap की मदद से हम इसे आसानी से खोज सकते है

Free Blog Aur Website Kaise Banayein Full Guide -In Hindi 2019

XML Sitemap क्या है ?

दोस्तों XML एक भाषा की तरह होता है जो की Information को स्टोर करती है

दोस्तों इसे Search Engine बड़ी आसानी से समझ जाता है

फ्रेंड्स हम आसान सब्दो में ये भी कह सकते की XMLSitemap को मुख्य रूप से Search Engine के लिए डिज़ाइन किया गया है

ताकि ये किसी भी वेबसाइट की Internai और  External Resourcess की जानकारी Search Engine को दे सके 

Apne Blog/Website Par Post Likhne Ke Liye New Ideas Kahan Se Layein-In Hindi 2019

Video Sitemap क्या है ?

दोस्तों आप किसी वीडियो की Sitemap भी बना सकते है। इसके लिए हम एक नयी और अलग फाइल बना सकते है। या फिर किसी Exsiting Sitemap में Video की जानकारी दे सकते है।

क्यूंकि फ्रेंड्स जानकारी को Add करने से उसकी Visibility Rich Snippet में काफी बढ़ जाती है। फ्रेंड्स मगर याद रहे जैसा हम आपको दिखा रहे है।

Google केबल Video Format को Crawl कर सकता है। 

जैसे = wmv , mp4 , mpeg , mpg , m4v , asf , flv , swf , avi , ra and ram AI

Image Sitemap 

फ्रेंड्स अगर आप ये चाहते है की आपके Image Google Search Result में दिखें तो आपके लिए Image Sitemap भी बाहत ज्यादा जरुरी है। जैसे Video Sitemap में हम Images ki Information उसी Exsiting Sitemap में Add  कर सकते है। 

What Is Backlink ! Quality Baclink Kaise Banayein-In Hindi 2019

Sitemap कैसे बनाएं 

तो फ्रेंड्स आइये अब हम जानते है Sitemap को कैसे बनाएं। मै आपको Step by Step बताऊंगा तो आइये जानते है 

Step1 : सबसे पहले आप एक Text File बनाइये फिर आप उसका नाम  Sitemap दें। फिर उसे .XML के फॉर्मेट में Save करें 

Step2 : उसके बाद हमें Search Engine को ये बताना है। की कैसे Sitemap Uncode हुआ है। इसके लिए निचे दिए गयी बातो को ध्यान से देखें 

1   <URL>

2   <loc>http://www.website.com/</loc>

3   <lastmode>2018-12-12</lastmod>

4   <changefreq>daily</changefreq>

5   <priority>1</priority>

6   </url>

फ्रेंड्स मई आपको बता दू की यहाँ पर loc-tag को Page Link करने के लिए इस्तमाल किया जाता है। आप यहाँ पर अपने URL को इन Tags के बीच में दाल सकते है।

और lastmode आपको ये बताता है की अपने कब last में  Page को Modify किया था। और change-freq का मतलब होता है की अपने कितनी बार उस पेज को बदला है।

जैसे ( Hourly , Daily , Weekly , Monthly , Yearly ) फ्रेंड्स आपको Archived URL के लिए  Never करना होता है 

आप अपने पेजेज को priority के हिसाब से Category पसंद कर सकते है।

priority-tag का इस्तमाल करके priority Values की range होती है 0.0 से 1.0 ( लेकिन 1.0 सबसे ज्यादा मुख्य है ) By Default page की  priority होती है

0.5 सभी पेजेज को ज्यादा priority देने से भी रैंक नहीं बढ़ेगी क्यूंकि ये सारी रिलेटिव होती है लेकिन यहाँ पर loc tag compulsary है

लेकिन फ्रेंड्स lastmod ,changefreq and priority tags optional है 

Domain Authority क्या हैं और अपनी website Ke Liye Domain Authority कैसे बढ़ाये -Hindi Me

Step 4

अब फ्रेंड्स अपने Sitemap को बना ही लिया है तो फ्रेंड्स जरुरी है

अब आप इसे अपनी साइट में अपलोड करें। फ्रेंड्स इसे Root Directory में ही ऐड करना चाहिए।

फ्रेंड्स जब आप Sitemap बना ते हो तो आपको इन चीज़ो को ध्यान रखना चाहिए 

  • सारे URL एक Sitemap के समान Host से आने चाहिए 
  • दोस्तों किसी भी URL की अधिकतम लमबाई 2048 Characters होना चाइये 
  • एक Site में maximam 50,000 हज़ार तक URL को रख सकते है 
  • किस भी Sitemap  का maximam file size 50 MB होता है 

फ्रेंड्स अगर आपका Sitemap काफी बड़ा है तो आप उसे बाँट भी सकते है। Multiple Sitemap में जिसके लिए आपको Sitemap index File Ad करना पड़ेगा। ये Normal Sitemap के जैसे ही है लेकिन यहाँ कुछ Tags का नाम अलग अलग है निचे देखें। 

<?XML Version=1.0” encoding=”UTF-8?”>

<Sitemapindex xmlns=http://www.sitemaps.org/schemas/sitemap/0.9>

< sitemap >

<loc>http://www.website.com/sitemapl.xml</loc>

</sitemap>

<sitemap>

<loc>http://www.website.com/sitemap2.xml</loc>

</sitemap>

</sitemapindex>

दोस्तों यहाँ पर Sitemap index file via the <loc> tag से दो Sitemap को लिंक कर रही है

wordpress kya hai ? Wordpess Par Apna Khud Ka Blog Aur Website Kaise Banayein- Hindi Me

Sitemap को validate कैसे करें

 सभी को पता है की ये code के द्वारा error को को ढूंढ सकते है इसी लिए ये एक बहुत ही अच्छा तरीका है। दोस्तों हम अपने Sitemap को submit करने से पहले validate करें

ताकि बो  error फ्री हो जाये। बैसे तो इंटरनेट पर आपको बहुत सारे फ्री के टूल्स मिल जायेंगे वैलिडिटी को चेक करने के लिए। लेकिन हम XML Sitemap को टेस्ट करने के लिए Google webmaster tools का इस्तमाल करते है

 जिसके लिए आपको add/test sitemap button पर  click करना पड़ेगा जो की Optimization>sitemap के निचे होता है जिसके द्वारा हम Sitemap को submit करने से पहले उसे चेक भी कर सकते है 

Informing Search Engine 

जब अपने अपना Sitemap बना लिया है और उसे Validate भी कर लिया है

अब आप इसके बारे में Search Engine को बताएं इसके लिए आपको Google ,Bing को अपना location देना पड़ेगा।

Google के लिए आपको अपने अकाउंट में लॉगिन करना पड़ेगा फिर आप आपको Optimization > sitemap जिसके सीधे तरफ Add Sitemap का Button होगा

यहाँ पर आपको अपनी वेबसाइट का URL Paste करना है अब बिंग के लिए आपको Bing Webmaster Tools का इस्तमाल करना है

Sitemap को Submit करने के लिए आपको Sitemap का Location भी डालना है 

Sitemap: https://bluehindi.com/sitemap.xml 

Bad Backlinks क्या होती हैं ? इनको अपने Blog से कैसे हटाएं -Full Guide In Hindi

About the author

Khustar Noorani

Leave a Comment